मदरसे में करंट की चपेट में आईं लड़कियां, एक ने तोड़ा दम, जानें कैसे हुई रूह कंपा देने वाली घटना

7/10/2024 10:22:45 AM

पुंछ(धनुज): नगर के निकटवर्ती गांव कनूईयां स्थित लड़कियों के मदरसे, मदरसा दारूल सुन्ना इसलामियां बनात में मंगलवार देर रात करंट लगने से एक लड़की की मौत हो गई, जबकि 12 अन्य लड़कियां मामूली रूप से घायल हो गईं। घायल लड़कियों को मौके पर मौजूद लोगों ने तुरंत राजा सुखदेव सिंह जिला अस्प्ताल पहुंचाया। यहां सभी घायल 12 लड़कियों की जांच करने और मरहम पट्टी करने के उपरांत उन्हें फिर से मदरसे में भेज दिया गया। मृतक लड़की की पहचान 14 वर्षीय मरियम जावेद पुत्री जावेद इकबाल निवासी गांव खनेतर के रूप में हुई है।

वहीं घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने कानूनी कार्रवाई पूरी करने के बाद मृतका के शव को परिजनों को सौंप दिया। इस घटना को लेकर राजा सुखदेव सिंह जिला अस्पताल की मेडिकल सुपरिटेंडेंट डाक्टर नाईम उल निसा का कहना है कि कनूईयां के बीच स्थित लड़कियों के मदरसे में एक हादसा पेश आया जिसमें करंट लगने से 13 बच्चियां घायल हो गईं जिन्हें उनके पास लाया गया। इनमें से एक बच्ची उनके पास मृत पहुंची है जबकि अन्य 12 को मामूली चोटें आई हैं।

वहीं कुछ बच्चियों ने बताया कि वह मदरसे की छत पर खेल रही थीं। इस दौरान मरियम ग्रिल पर पड़े अपने कपड़े उठाने लगी तो ऊपर से गुजर रही तार से उसे करंट लगा और उसके साथ उन्हें भी करंट लग गया, जिससे सब बेहोश हो गईं। उधर मदरसा संचालक मोलवी अब्दुल बाकी का कहना है कि उनका मदरसा लड़कियों का है। यहां कुछ लड़कियां छत पर थीं इस बीच तेज हवाएं चलने लगीं और बारिश होने लगी। तभी एक लड़की अपने कपड़े उठाने लगी जिस दौरान उसका दुप्पटा पास से गुजर रही बिजली की तारों से लग गया, जिससे उसे करंट लगा और उसकी मौत हो गई। मदरसा संचालक ने इस बात का आरोप लगाया कि उन्होंने कई बार बिजली विभाग के अधिकारियों को लिखित में मरदसे के पास से गुजरने वाली बिजली की मुख्य तारों को स्थानांतरित करने अथवा उनके स्थान पर केबल लगाने की मांग की लेकिन विभाग ने इस तरफ ध्यान नहीं दिया, जिसके कारण यह हादसा पेश आया है।


Content Writer

Sunita sarangal

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Related News