अखनूर हादसा: इस कारण बस हुई हादसे का शिकार, अब तक 22 लोगों ने तोड़ा दम

5/31/2024 10:59:30 AM

जम्मू: जम्मू-पुंछ राष्ट्रीय राजमार्ग पर चौकी चौरा-काली धार मार्ग पर स्थित गांव तुंगी मोड़ पर हाथरस (यू.पी.) से शिवखोड़ी जा रही बस 200 फुट गहरी खाई में गिरने से 22 तीर्थयात्रियों की मौत हो गई और 60 तीर्थयात्री घायल हो गए। स्थानीय लोगों, पुलिस और सेना ने बचाव अभियान चलाया। घायल तीर्थ यात्रियों को उप जिला अस्पताल अखनूर में दाखिल किया गया। गंभीर रूप से 56 घायलों को जी.एम.सी. जम्मू रैफर कर दिया गया है। हादसे में 60 घायलों का इलाज जारी है, दो वेंटिलेटर पर है जबकि 6 की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है।

यह भी पढ़ें :  सर्च ऑपरेशन दौरान आतंकियों के ठिकाने तक पहुंचे सुरक्षाबल, जमकर हुई गोलीबारी

जानकारी के अनुसार बस (नबंर यू.पी 86ईसी 4078) जब तीखे मोड़ पर पहुंची तो अचानक सामने से दूसरी बस आ गई। हादसे का शिकार हुई बस का चालक संतुलन नहीं रख पाया और बस पहाड़ी से खाई में लुढ़क गई। बताया जा रहा है कि बस ने 5-6 पलटियां मारीं। इस दौरान स्लीपर बस में 80 के करीब तीर्थ यात्री सवार थे। एस.पी. रूरल ब्रजेश शर्मा और एस.डी.पी.ओ. मोहन लाल शर्मा की अगुवाई में पुलिस ने घायलों को बाहर निकालकर उप जिला अस्पताल पहुंचाया। कुछ तीर्थयात्रियों की मौके पर मौत हो गई थी। तीर्थ यात्रियों को गहरी खाई में से निकालने के लिए 4 घंटे लग गए। कुछ घायलों का चौकी चौरा अस्पताल और अखनूर उपजिला अस्पताल में उपचार चल रहा है।

यह भी पढ़ें :  पुंछ के जंगल में आग ही आग, फटी बारूदी सुरंगें

घायलों का हाल जानने पहुंचे मंडलायुक्त व ए.डी.जी.पी.

उपचाराधीन घायलों को मिल रही उपचार सुविधाओं का निरीक्षण करने हेतु मंडलायुक्त जम्मू रोमेश कुमार व ए.डी.जी.पी. आनंद जैन जम्मू के राजकीय मैडीकल कालेज पहुंचे। इस दौरान उन्होंने घायलों से हादसे के बारे में जानकारी ली और अस्पताल प्रशासन को घायलों को बेहतर चिकित्सा सुविधा देने के निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें :  इस National Highway पर भयानक हादसा, मच गई चीख-पुकार

मृतकों की पहचान

हादसे में मरने वालों की पहचान धर्मपति पत्नी राधेशाम निवासी अलीगढ़, अनामिका पत्नी लक्षमण प्रसाद निवासी नया अलीगढ़, नैयना पुत्री लक्ष्मण प्रसाद, रूद्रा पुत्र लक्षमण प्रसाद, रणबीर सिंह निवासी हाथरस, लक्ष्मण प्रसाद निवासी नया अलीगढ़, विक्की, सीमा पत्नी समरजीत, रंडुआ, सोनू, समरजीत, प्राची, तनुज, सुरेश, संजय, रेणु, 3 बच्चों सहित 6 की अभी पहचान नहीं हुई है। यह सभी नया अलीगढ़ और अलीगढ़ के रहने वाले हैं।


Content Writer

Sunita sarangal

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Related News